मुलायम का बड़ा खुलासा: नीतीश को नहीं बनाना चाहते थे सीएम लालू

By: Admin
Aug 03 2017
0
hits:142

नई दिल्ली : नीतीश कुमार को लेकर समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने एक बड़ा खुलासा करते हुए दावा किया है कि 2015 में बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान सीएम पद के लिए नीतीश कुमार उनके सामने रोए थे। मुलायम के मुताबिक, महागठबंधन का जरुरी पार्टनर होने के बाद भी लालू यादव, नीतीश को सीएम कैंडिडेट नहीं बनाना चाहते थे। साथ ही मुलायम सिंह ने यह भी कहा कि लालू यादव ने यह बात भी रखी थी कि सीएम का चुनाव इलेक्शन में आने वाले रिजल्ट के बाद MLAs की संख्या के हिसाब से किया जाए। लालू का मकसद था कि नीतीश कुमार के साथ गठबंधन तो किया जाए, लेकिन वे बिना किसी चेहरे के चुनाव में जाना चाहते थे। इन सबके पीछे लालू की यह योजना थी कि यदि उनकी पार्टी को ज्यादा सीट हासिल होती है तो वे सीएम कैंडिडेट चुनने के समय नीतीश पर दबाव डाल सकें। मुलायम के मुताबिक, ''बाद में मेरे दवाब में लालू यादव झुक गए और उन्होंने नीतीश कुमार को सीएम कैंडिडेट के तौर पर स्वीकार कर लिया। मुलायम के घर पर हुई नेताओं की मीटिंग में यह सामने आया था कि, 8 जून 2015 को मुलायम सिंह के घर लालू यादव और नीतीश कुमार की मीटिंग हुई थी। दरअसल, बिहार चुनाव के दौरान बीजेपी से मोर्चा लेने के लिए मुलायम सिंह, लालू, नीतीश और कांग्रेस नेतृत्व महागठबंधन बनाने की कवायद कर रहे थे। इसकी अगुवाई मुलायम सिंह ही कर रहे थे। इस दौरान मुलायम ने पंच की भूमिका में न सिर्फ लालू-नीतीश के बीच सीट बंटवारे पर सहमति बनाई, बल्कि सीएम कैंडिडेट बनने के लिए नीतीश का रास्ता भी आसान किया। साथ ही यह भी बताया जाता है कि नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले महागठबंधन को विधानसभा की 243 सीटों में से 178 सीटों पर जीत म‍िली थी। इसमें लालू यादव की पार्टी आरजेडी को 80, नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू को 71 और महागठबंधन की तीसरी पार्टी कांग्रेस को 27 सीटें मिली थीं। वहीं, एनडीए 58 सीटों पर ही सिमट गई थी।
comments

No comment had been added yet

leave a comment

Create Account



Log In Your Account



;